क्या आप भी तेल को रीसायकल करते हैं? पूड़ी, भाजी या किसी भी तले हुए खाने के बाद

Date:

Share post:

आजकल सभी घरों में खाना पकाने के लिए तेल का इस्तेमाल तेजी से बढ़ रहा है। कई घरों में पूड़ी, भाजी या किसी भी तले हुए खाने के बाद बचे हुए तेल को दोबारा इस्तेमाल किया जाता है, तेल की यह रिसाइक्लिंग आम बात है. लगभग हर घर में बचा हुआ खाना पकाने का तेल इस्तेमाल होता है। उपयोग किए गए खाना पकाने के तेल में से कुछ का उपयोग लोग सब्जियां, परांठे या कोई अन्य भोजन (प्रयुक्त खाना पकाने के तेल का पुन: उपयोग) तैयार करने के लिए करते हैं। लेकिन एक बार इस्तेमाल किए गए तेल को रिसाइकिल करके दूसरा उत्पाद बनाना बहुत ज्यादा है हानिकारक हो सकता है। दरअसल, एक बार इस्तेमाल किए गए तेल को दोबारा इस्तेमाल करना सेहत के लिए हानिकारक होता है।

कैंसर के खतरे को बढ़ाता है

अगर आप एक बार इस्तेमाल किए गए तेल को बार-बार इस्तेमाल करते हैं तो कैंसर का खतरा काफी बढ़ जाता है। दरअसल, तेल को बार-बार गर्म करने से उसमें फ्री रेडिकल्स बनने लगते हैं। साथ ही इसके सारे एंटी-ऑक्सीडेंट भी नष्ट हो जाते हैं। ऐसे में उनमें कार्सिनोजेन्स बनने लगते हैं, जो खाने के जरिए आपके शरीर में प्रवेश कर जाते हैं। इस्तेमाल किए गए तेल के सेवन से पेट का कैंसर, गॉल ब्लैडर कैंसर, लिवर कैंसर आदि का खतरा बढ़ जाता है।

हृदय रोग हो सकता है

इस्तेमाल किए गए तेल को बार-बार रिसाइकिल करने से आपको दिल की समस्या भी हो सकती है। दरअसल, एक बार इस्तेमाल किए गए तेल को रिसाइकिल करने से आपके शरीर में चर्बी बढ़ती है, जिससे आपके हृदय रोग का खतरा बढ़ जाता है। इस्तेमाल किए हुए तेल को दोबारा तेज आंच पर गर्म करने से उसमें मौजूद फैट ट्रांस फैट में बदल जाता है, जो हमारे शरीर के लिए बहुत हानिकारक होता है। ऐसे में बार-बार तेल के इस्तेमाल से हार्ट अटैक का खतरा बढ़ जाता है।

पेट की बीमारियाँ

बचे हुए तेल को बार-बार इस्तेमाल करने से पेट की समस्या हो सकती है। इस्तेमाल किए हुए तेल को दोबारा इस्तेमाल करने से आपको अल्सर, एसिडिटी, सूजन आदि की समस्या हो सकती है। इतना ही नहीं अधिक तेल का सेवन करना हमारे पाचन के लिए भी अच्छा नहीं होता है। इससे अपच, कब्ज और डायरिया जैसी समस्याएं भी हो सकती हैं।

मधुमेह और मोटापा

तलने के बाद बचे हुए तेल को दोबारा इस्तेमाल करने से भी मोटापा बढ़ सकता है। इतना ही नहीं बचे हुए तेल से बने भोजन का सेवन करने से भी मधुमेह हो सकता है। इसलिए जहां तक ​​हो सके इस्तेमाल किए हुए तेल के दोबारा इस्तेमाल से बचना चाहिए।

रक्तचाप के लिए हानिकारक

अगर आपको हाई ब्लड प्रेशर है तो आपको बचे हुए तेल के इस्तेमाल से बचना चाहिए। बार-बार गर्म करने से तेल फ्री फैटी एसिड और रेडिकल रिलीज करता है, जिससे अनियंत्रित ब्लड प्रेशर हो सकता है।

Latest Post

spot_img

Related articles

इस क्रीमी पालक सूप को पोपी द सेलर मैन जितना स्ट्रांग बनाने की कोशिश करें

1990 की एनिमेटेड सीरीज़ Popeye the Cellar Man बचपन में हम में से कई लोगों का पसंदीदा शो...

PCOS: क्या आप पीसीओएस से पीड़ित हैं? ऐसे में कुछ बीज आपकी मदद कर सकते हैं

पीसीओएस को पॉलीसिस्टिक ओवरी सिंड्रोम के रूप में भी जाना जाता है, यह मासिक धर्म वाली महिलाओं में...

मात्र 50 पैसे में 1 किलोमीटर जाएगी ये ई-रिक्शा, कीमत जान हैरान हो जाएगे आप

नई दिल्ली। इस साल ऑटो एक्सपो में इलेक्ट्रिक वाहनों का चलन है। इलेक्ट्रिक सेगमेंट निजी के साथ-साथ वाणिज्यिक...

iPhone में आया ये बड़ा अपडेट नहीं करने पर होगा बड़ा नुकसान, जल्दी देखें

Apple धीरे-धीरे iPhone 15 सीरीज की ओर बढ़ा। उनकी लोकप्रियता धीरे-धीरे बढ़ रही है। जहां पहले भारी जेब...