Delhi: देश की राजधानी नई दिल्ली में हम सब को अक्सर नए नए जुर्म के मामले देखने को मिलते रहते हैं। फिर चाहे यह मामले बलात्कार के हों, चोरी के हों या फिर मर्डर के। ऐसी ही एक और वारदात हाल ही में दिल्ली में सामने आई है जिसमें एक डबल मर्डर का आरोपी एक दस रुपए के फटे नोट की वजह से पकड़ा गया है।

आपको बता दें कि यह घटना लगभग एक साल पुरानी है और दिल्ली के पालम इलाके की है। दिल्ली के इस जाने माने इलाके में 6 जुलाई 2021 को यह डबल मर्डर की वारदात सामने आई। यह घटना शाम के करीब 7 बजे घटित हुई थी जिसके तहत आरोपी ने एक एयरफोर्स कर्मचारी के पत्नी और बच्चे की हत्या कर दी थी और तो और सबूत मिटाने के लिए सीसीटीवी का डीवीआर लेकर भी फरार हो गया था।

ये भी पढ़ें: Holi 2022: प्रेगनेंट औरतें होली खेलने से पहले जाने लें यह जरूरी बातें

कैसे सामने आई वारदात?

दरअसल यह वारदात तब सामने आया जब कृष्ण स्वरूप नामक व्यक्ति जो की एक एयरफोर्स कर्मी था, अपने घर लौटता है। घर की बिखरी हुई हालत देखकर व्यक्ति घबरा जाता है और आगे जा कर उसे अपने बीवी और बच्चे की लाश खून में लथपथ पड़ी मिलती है। यह सब कुछ देखने के बाद व्यक्ति तुरंत ही स्थानीय पुलिस थाने में यह मामला दर्ज करवाता है। जिसके बाद इस घटना पर प्रकाश पड़ा।

घटना की जानकारी मिलने के बाद जब पुलिस ने घर के आसपास की सीसीटीवी फुटेज चेक की तो उन्हें एक शख्स मुंह पर गमछा लपेटे रिक्शा में बैठते हुए दिखा जिसके हाथों में खून लगा हुआ था। रिक्शा ड्राइवर से पूछताछ पर पुलिस को रिक्शा वाले ने बताया की वह शख्स उसे 10 रुपए की फटी नोट दे रहा था जिसे रिक्शा चालक ने लेने से मना कर दिया जिसके बाद आरोपी ने उसे Paytm किया। इतना सुनते ही पुलिस वालों ने जन paytm नंबर की जांच पड़ताल की तो वह दंग रह गए।

ये भी पढ़ें: Skincare: बाहर निकलने से पहले करें यह काम, बची रहेगी गर्मियों से त्वचा

कौन था आरोपी और क्या था जुर्म का कारण?

पुलिस को पता चला की यह आरोपी और कोई नहीं बल्कि मृत महिला बबिता का भतीजा अभिषेक था। पुलिस ने यह बात जानते ही अभिषेक को हिरासत में लिया जिसमें पुछताछ के दौरान अभिषेक ने बताया की वह बबिता से उधर लिए हुए 50 हजार रुपए वापस नहीं कर पा रहा था जिसके कारण उसने मां और बेटे दोनों के सर को डंबल से कूचकर हत्या कर दी।