Chinese App Ban: वर्ष 2020 में भारत सरकार ने लगभग 59 चीनी एप्स बैन किए थे। इन एप्लीकेशंस में बहुत ही ज्यादा लोकप्रिय ऐप टिकटोक भी शामिल था। इन ऐप्स में हेलो, कैम्सकैनर, एमआई वीडियो कॉल, लाइक, वी चैट और विगो लाइव और चीनी शॉपिंग साइट जैसे की शीन, क्लब फैक्ट्री जैसे अन्य कई ऐप्स पर भारत में प्रतिबंध लगा दिया था। गरेना फ्री फायर- इल्यूमिनेट के अलावा, प्रतिबंधित ऐप्स की नई सूची में ज्यादातर उन ऐप्स के क्लोन शामिल हैं।

जिन्हें पहले से ही भारत में 2020 से प्रतिबंधित कर दिया गया था। कुछ ऐप जिन्हें पहले प्रतिबंधित किया गया था, वे भारत में चुपचाप फिर से ब्रांडेड और फिर से लॉन्च हो गए थे। 54 और प्रतिबंधित ऐप्स के साथ, भारत सरकार द्वारा प्रतिबंधित किए गए कुल ऐप्स की सूची अब तक लगभग 324 तक पहुंच सकती है।

सरकार द्वारा इस प्रतिबंध की घोषणा करने से पहले लोकप्रिय गरेना फ्री फायर गेम Google Play Store और Apple App Store दोनों से गायब हो गया था। जबकि इल्यूमिनेट संस्करण पहले ही हटा दिया गया है, मैक्स संस्करण अभी भी Google Play Store पर है। यह बहुत संभव है कि Google इसे बहुत जल्द हटा भी ले।

हालांकि बैन होने के बाद भी यह ऐप्स अपने नाम बदल कर भारत में घुस रहे थे जिसको ध्यान में रखते हुए भारत सरकार ने एक बार फिर से इन कुछ ऐप्स को भारत में बैन कर दिया है। आइए जानते हैं इन ऐप्स के नाम…

Chinese App Ban: भारत में प्रतिबंधित ऐप्स


1. Garena FreeFire

2. Beauty Camera – Sweet Selfie HD

3.Beauty Camera – Selfie Camera

4. Rise of Kings: Lost Crusade

5. Viva Video Editor

6. Tencent Xriver

7. Illuminate

8. Astracraft

9. FancyU Pro

10. Moonchat

11. Barcode Scanner

12. QR Code Scan

13. Leica Camera

14. Nice Video Baidu

15. App Lock

16. Dual Space Lite

ये भी पढ़े: Haunted Places In India: ये हैं भारत की सबसे डरावनी जगहें…

इन सभी ऐप्स के साथ 38 और ऐप्स हैं जिन पर भारत में प्रतिबंध लगा दिया गया है। दरअसल सरकार ने इन ऐप्स को इसलिए बंद किया है क्योंकि सूत्रों के अनुसार यह ऐप्स भारत में लोगों के फोन में घुसकर उनका डाटा चुरा रहे हैं। पिछले साल जून में, भारत ने देश की संप्रभुता और सुरक्षा के लिए खतरे का हवाला देते हुए व्यापक रूप से उपयोग किए जाने वाले सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म जैसे कि टिकटॉक, वीचैट और हेलो सहित 59 चीनी मोबाइल एप्लिकेशन पर प्रतिबंध लगा दिया था।

इलेक्ट्रॉनिक्स और सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय ने कहा कि सूचना प्रौद्योगिकी अधिनियम की धारा 69 ए के तहत ऐप्स पर प्रतिबंध लगा दिया गया था। मई 2020 में चीन के साथ सीमा पर तनाव के बाद से भारत ने 321 ऐप्स को ब्लॉक कर दिया है।

भारत सरकार ने इससे पहले टिकटॉक और पबजी मोबाइल समेत कई लोकप्रिय ऐप पर प्रतिबंध लगा दिया था। जबकि PUBG मोबाइल ने किसी तरह भारत में वापसी की, क्राफ्टन ने एक नया कार्यालय स्थापित किया और अपने चीनी भागीदारों के साथ संबंध तोड़ लिया, टिकटोक इतना भाग्यशाली नहीं रहा है और देश में इसे प्रतिबंधित किया जा रहा है। कहा जाता है कि प्रतिबंधित ऐप्स की नई सूची में कुछ चीन-मूल सहित नकली प्रतियां शामिल हैं।

इन एप्स के बंद होने पर, खास तौर पर फ्री फायर के बन होने पर युवाओं को काफी दुःख पहुंचा है। बहुत से लोगों ने इस एप में अपने समय के साथ साथ ही बहुत सारे पैसे भी निवेश किये हैं जो अब साफ़ तौर पर जाया जाने वाले हैं। पब जी के बंद होने के बाद बहुत से लोगों ने फ्री फायर का सहारा लिया था और इसी से अपना मन बहला लिया करते थे लेकिन अब इस एप के भी बैन हो जाने पर लोगों को ज़ाहिरा तौर पर दुःख तो पहुँचने ही वाला है।