नई दिल्ली: Texas Hostage Case: शनिवार 15 जनवरी को अमेरिका के टेक्सास (Texas) में चार लोगों को बंधक बना लिया गया था। बंधक बनाने वाले ने कुख्यात ‘अल-कायदा’ (Al-kaeeda) महिला आफिया सिद्दीकी (Aafia Siddiqui) की रिहाई की मांग की है, जो फिलहाल बंधकों के कैद वाली जगह से सिर्फ 15 मील की दूरी पर अमेरिकी जेल में बंद है।

बंधक बनाने वाले व्यक्ति को बाद में निष्प्रभावी कर दिया गया, और बंधकों को मुक्त कर दिया गया है। जानकारी के अनुसार, 10 घंटे के गतिरोध के बाद रविवार को चार लोगों को मुक्त करा दिया गया। इन चार लोगों को बंधी बनाने वाला संदिग्ध व्यक्ति मारा गया है।

Aafiya Siddiqui

कौन है आफिया सिद्दीकी? Texas

आफिया सिद्दीकी एक पाकिस्तानी न्यूरोसाइंटिस्ट (Pakistani Neuro Scientist) हैं जिसने यूनाइटेड स्टेट्स (United States) में अपनी पढ़ाई पूरी की थी। 2010 में अफगानिस्तान (Afghanistan) में ड्यूटी पर रहने वाले अमेरिकी सेना अफसरों को मारने की कोशिश करने के लिए दोषी ठहराए जाने के बाद वह वर्तमान में 86 साल की जेल की सजा काट रही है। आफ़िया सिद्दीकी दुनिया की मोस्ट वांटेड औरत (Most Wanted Woman Of World) के तौर पर जानी जाती है.

इसके साथी इसे लेडी अल क़ाएदा का दर्जा दिया गया है और इस्लामी संगठन (Islamic Groups) के लोगों के लिए यह एक प्रेरणा का स्त्रोत है। एफबीआई (Federal Bureau Of Investigation) के अनुसार 2002 में आफ़िया सिद्दीकी ने यूनाइटेड स्टेट्स में पाकिस्तानी अल कायदा संदिग्ध मजीब खान (Majib Khan) के नाम पर एक पोस्ट ऑफिस शुरू किया था।

Aafiya Siddiqui Before And After

एक रिपोर्ट के अनुसार आफ़िया का दूसरा पति अम्मार अल बलूची (Ammar Al-Baluchhi) 9/11 के हमले में शामिल रह चुके और डेनियल पर्ल (Daniel Pearl) का क़त्ल करने वाले खालिद शेख मुहम्मद (Khaleed Sheikh Muhammad) का भतीजा है और वह खुद भी 9/11 के हमले का हिस्सा रह चूका है। आफ़िया को जुलाई 2008 में अफ़ग़ानिस्तान के ग़ज़नी (Ghazni) शहर में गिरफ्तार किया गया था।

आफ़िया पर आरोप थे की उसने न्यू यॉर्क (New York) में काफी बार विस्फोटक हमले करवाए हैं और इन हमलो के साथ साथ ही वह बॉम्ब बनाने जैसी संदिग्ध कार्यों में भी शामिल रही है। आफ़िया पर यह भी आरोप हैं की उसने अफ़ग़ानिस्तान पुलिस स्टेशन (Afghanistan Police Station) में पुलिस कर्मी से राइफल छीन कर अमरीकी आर्मी (United States’ Army) पर गोली चलायी हालांकि इस से किसी को कोई नुक्सान नहीं पहुंचा उल्टा आफ़िया खुद ही इस अफरा तफरी में गोली द्वारा ज़ख़्मी हो गयी।

Texas Hostage Cases

फरवरी 2010 तक आफिया के खिलाफ जुर्म और आतंक फैलाने के लिए बहुत से अन्य मामले भी दर्ज़ हो चुके थे जिन में से एक मामला अमरीकी नागरिकों को जान से मारने की योजना बनाने का भी था। इन सब बातों को पूरे ध्यान में रखते हुए आफ़िया सिद्दीकी को अमेरिका में 86 साल के कैद (86 Years Of Prison) की सज़ा दे दी गयी।

जब तक आफिया के कैद का समय पूरा होगा तब तक वह 110 साल की हो चुकी होगी और संभवतः मर भी चुकी होगी। हालांकि इतना सब कुछ हो जाने के बाद भी पाकिस्तान की सरकार ने आफ़िया के साथ पूरी हमदर्दी और सहानुभूति दिखते हुए कहा है की वह देश की बेटी के लिए उनसे जो कुछ भी हो सकेगा वो करेंगे

आफिया सिद्दीकी की गिरफ्तारी की खबर अमेरिका में बहुत कम नोटिस के साथ पारित हुई, उनकी सजा के कारण पाकिस्तान में व्यापक अमेरिकी-विरोधी प्रदर्शन हुए और मांग की गई कि पाकिस्तानी अधिकारियों ने अफगानिस्तान में युद्ध के प्रयास के लिए की गई आपूर्ति को निलंबित कर दिया। आफिया के वकील ने सीएनएन (CNN) को दिए गए एक बयान में कहा कि इन चार लोगों को बंधक बनाने की प्रक्रिया में आफिया का कोई भी हाथ नही है। उसका इस मामले से कोई भी संबंध नहीं है और वह इस बात की कड़ी निन्दा करते हैं।

Corona को लेकर बड़ा खुलासा, हवा में 20 मिनट के अंदर हो सकता है ये…